महिलाओं के कल्याण और विकास के लिए छत्तीसगढ़ सरकार प्रतिबद्ध: भूपेश बघेल

0

मुख्यमंत्री टीव्ही-27 न्यूज चैनल के कार्यक्रम में शामिल हुए

रायपुर, / मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज टीव्ही-27 न्यूज चैनल के ‘बदला छत्तीसगढ़ और नारी शक्ति‘ विषय पर आधारित कॉनक्लेव में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ में महिलाओं का सदैव सम्मान किया जाता रहा है। यहां केरल के बाद सबसे अधिक लिंगानुपात है। छत्तीसगढ़ सरकार महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए लगातार कार्य कर रही है। हमारी सरकार महिलाओं के कल्याण और विकास के लिए प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने टीव्ही-27 न्यूज चैनल को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह चैनल पूर्णतः महिलाओं द्वारा संचालित किया जा रहा है, यह बहुत अच्छी बात है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि हमारी आधी आबादी महिलाओं की है। उनके बराबर की भागीदारी के बिना तरक्की संभव नहीं है। महिलाएं किसी भी परिवार में प्रमुख भूमिका निभाती है। हमारी सरकार द्वारा महिलाओं को अच्छी शिक्षा मिले इसके लिए कार्य किए जा रहे है। इसलिए हमने निःशुल्क शिक्षा की व्यवस्था की है। महिलाएं जितना शिक्षित होगी उतना ही परिवार आगे बढ़ेगा और समाज आगे बढ़ेगा। श्री बघेल ने कहा कि हमने महिला स्व-सहायता समूहों को विभिन्न योजनाओं से जोड़ा है। वे गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट, घानीतेल सहित विभिन्न उत्पादों का निर्माण कर रही हैं। इन उत्पादों के मार्केटिंग की व्यवस्था की गई, इससे महिला स्व-सहायता द्वारा बनाये गए उत्पाद की अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है और समूहों को अच्छी आय प्राप्त हो रही है। महिला स्व-सहायता समूह के कार्य को भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर श्री रघुराम राजन ने भी सराहना की थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ के तीज त्यौहारों और संस्कृति को संरक्षण के लिए कार्य किए। प्रमुख तीज त्यौहार तीजा-पोरा, हरेली तिहार को मुख्यमंत्री निवास में आयोजन किया। राज्य सरकार द्वारा जो कार्य किए जा रहे है उनसे जनता को यह महसूस हो रहा है कि यह सरकार उनकी अपनी ही सरकार है। श्री बघेल ने शिक्षा के विषय में चर्चा करते हुए कहा कि यदि कोई बच्चा मातृत्व भाषा में शिक्षा हासिल करता है तो उसे आसानी से आत्मसात् करता है। इसलिए हमारे स्कूलों में स्थानीय भाषा में शिक्षा को प्रोत्साहन देने का कार्य किया जा रहा है। संस्कृत हमारी प्राचीन भाषा है, उसे बढ़ावा देने के लिए आत्मानंद स्कूल में संस्कृत विषय को पढ़ाये जाने का निर्णय लिया गया है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री सहित अन्य अतिथियों को आयोजकों द्वारा प्रतीक चिन्ह भी प्रदान किया गया। कार्यक्रम को गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू एवं कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने भी सम्बोधित किया। साथ लोक कलाकार सुश्री पूनम तिवारी ने भी प्रस्तुति दी। इस अवसर पर जनधारा मीडिया समूह के प्रधान संपादक श्री सुभाष मिश्रा, समूह संपादक श्री अभय किशोर सहित अन्य अतिथिगण उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.