अपना भी ताबूत तैयार रखो, आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या की जांच कर रहे अधिकारी को मिली धमकी

 

पलक्कड़ । केरल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) कार्यकर्ता की हत्या की जांच कर रहे एक पुलिस अधिकारी को जान से मारने की धमकी मिली है। आरएसएस के कार्यकर्ता श्रीनिवासन की कथित हत्या के मामले की जांच कर रहे एक अधिकारी ने दावा किया कि उन्हें धमकी भरे फोन आ रहे हैं। पुलिस ने कहा कि जांच अधिकारी द्वारा दायर शिकायत के अनुसार, फोन करने वाले का कहना है कि उसे इस जांच के दिक्कत हो रही है। उसने फोन पर धमकी दी कि पलक्कड़ छोडऩे से पहले उसे (जांच अधिकारी को) परिणाम भुगतने होंगे। पुलिस ने कहा, धमकी देने वालों ने जांच अधिकारी से एक ताबूत तैयार रखने को कहा है।
अधिकारी के बयान के आधार पर पलक्कड़-टाउन साउथ थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। गौरतलब है कि आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या के मामले में अब तक 34 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है और ये सभी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) से जुड़े हुए हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता श्रीनिवासन की 16 अप्रैल को (पीएफआई) नेता सुबैर की केरल के पलक्कड़ जिले में उसके पिता के सामने हत्या के एक दिन बाद हत्या कर दी गई थी।
सुबैर एक लोकप्रिय पीएफआई वर्कर था जिसकी 15 अप्रैल को एलुपल्ली पलक्कड़ जिले में हत्या कर दी गई थी। इसी हत्या के प्रतिशोध के रूप में, एक पूर्व आरएसएस कार्यकर्ता श्रीनिवासन की 16 अप्रैल को हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने दो मामलों की जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन किया था और एडीजीपी कानून व्यवस्था टीमों का नेतृत्व कर रहे हैं। गौरतलब है कि हाल ही में केंद्र सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर 5 साल का प्रतिबंध लगाया था।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment