राजस्थान के कर्मचारियों की मांग के बिना पुरानी पेंशन योजना को उन्होंने बहाल किया: गहलौत

 

शिमला । राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि उनकी सरकार ने 238 सेवानिवृत्त कर्मियों को पुरानी पेंशन देना शुरू कर दिया है। पहली अप्रैल से एनपीएस का पैसा काटना भी बंद कर दिया है। राजस्थान के कर्मचारियों की मांग के बिना पुरानी पेंशन योजना को उन्होंने बहाल किया। वित्तीय प्रबंधन को सही तरीके से करने पर ओपीएस का बोझ नहीं पड़ेगा। आज नहीं तो कल केंद्र सरकार और अन्य राज्यों को भी पुरानी पेंशन देनी होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भी कई बार मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए ओपीएस शुरू करने को कहा है
मंगलवार दोपहर बाद राजधानी शिमला स्थित प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में आयोजित प्रेस वार्ता में गहलोत ने कहा कि कर्मचारियों और अधिकारियों को सामाजिक सुरक्षा देना हमारी प्राथमिकता है। सरकारी नौकरी को लोग पेंशन के लिए ही निजी क्षेत्र की नौकरी की जगह चुनते हैं। उन्होंने कहा कि पुरानी पेंशन योजना को लेकर केंद्र सरकार चर्चा करने के लिए भी तैयार नहीं है। हिमाचल सहित कुछ राज्यों ने सिर्फ इस बाबत कमेटी बनाई है। इससे भाजपा की नीति और नीयत का पता चलता है। गहलोत ने कहा कि आज देश के हालात ऐसे बना दिए गए हैं कि कोई अगर असहमति जताए तो उसे देशद्रोही कहते हैं। ईडी और सीबीआई को पीछे लगाया जाता है। कर्नाटक, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में लोकतंत्र को कमजोर करते हुए विधायकों की खरीद फरोख्त की जा रही है। राजस्थान में भी प्रयास हुए थे लेकिन हम बच गए। भाजपा पर सरकारों को तोडऩे का गहलोत ने आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी करने के छह वर्ष बाद भी कालाधन कम नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने मेरी कोई तारीफ नहीं की थी। सिर्फ यह कहा था कि जब वह मुख्यमंत्री थे, तब गहलोत सबसे वरिष्ठ मुख्यमंत्री थे। गहलोत ने कहा कि ईडब्ल्यूएस आरक्षण को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर अधिकारियों के साथ चर्चा की जाएगी। ृ
कांग्रेस और देश का डीएनए एक, कभी खत्म नहीं होगी पार्टी
गहलोत ने कहा कि कांग्रेस और देश का डीएनए एक है। देश कभी भी कांग्रेस मुक्त नहीं होगा। चाल, चरित्र और चेहरे की बातें करने वाली पार्टी से हमें कुछ सीखने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के चेहरे पर भाजपा राजनीति कर रही है।
खरगे पर टिप्पणी की जगह अपना घर संभालें नड्डा
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को लेकर भाजपा नेताओं की बयानबाजी पर गहलोत ने कहा कि जेपी नड्डा हमारी चिंता करने की जगह अपना घर संभालें। कांग्रेस से कहीं ज्यादा वंशवाद भाजपा में है। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर भी वंशवाद से आए हैं।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment