कैलिफोर्निया विधानसभा के लिए चुनी गई पहली भारतीय मूल की सिख महिला

 

न्यूयॉर्क । भारतीय मूल की पहली सिख महिला के रूप में जसमीत कौर बैंस कैलिफोर्निया विधानसभा के लिए हुए चुनाव में जीत हासिल कर इतिहास रच दिया। केर्न काउंटी में बैंस ने अपनी प्रतिद्वंद्वी लेटिसिया पेरेज को मात दी। बैंस को 10,827 मतों के साथ 58.9 प्रतिशत वोट मिला, जबकि उनकी प्रतिद्वंदी पेरेज को 7,555 वोट के साथ 41.1 प्रतिशत वोट हासिल हुआ।
बैंस बेकर्सफील्ड रिकवरी सर्विसेज में चिकित्सा निदेशक हैं।
उन्होंने कहा कि वह स्वास्थ्य सेवा, आवास, पानी की सुविधा और वायु गुणवत्ता को प्राथमिकता देंगी।
उन्होंने अपने एक संदेश में लिखा, यह एक रोमांचक रात है, मैं शुरुआती रूझान से उत्साहित हूं और केर्न काउंटी में मिले समर्थन के लिए लोगों का आभारी हूं।
उनका चुनाव क्षेत्र जिला अरविन से डेलानो तक फैला है। इसमें पूर्वी बेकर्सफील्ड का अधिकांश भाग शामिल है।
भारत के अप्रवासी माता-पिता की बेटी बैंस अपने पिता को एक सफल व्यवसायी बनते हुए बड़ी हुईं। उनके पिता ने एक ऑटो मैकेनिक के रूप में शुरू किया और कार डीलरशिप के मालिक बने। कॉलेज के बाद मेडिसिन में अपना करियर बनाने से पहले बैंस ने अपने पिता के साथ काम किया।
कोविड के दौरान उन्होंने कोविड रोगियों के इलाज के लिए फील्ड अस्पतालों की स्थापना की।
उन्हें कैलिफोर्निया एकेडमी ऑफ फैमिली फिजिशियन द्वारा 2019 हीरो ऑफ फैमिली मेडिसिन और ग्रेटर बेकर्सफील्ड चैंबर ऑफ कॉमर्स से 2021 ब्यूटीफुल बेकर्सफील्ड अवार्ड से सम्मानित किया गया।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment