बड़ी खबर: आप ही का बेटा हु कहकर बनाया विश्वास, फिर धीरे धीरे बुजुर्ग दम्पती से उड़ा गए सवा करोड़…आरोपी पुलिस गिरफ्त मैं

एन्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट दुर्ग एवं थाना मोहन नगर की संयुक्त कार्यवाही
भिलाई। बुजुर्ग दम्पती से फर्जीवाड़ा कर सवा करोड़ से अधिक राशि का फर्जीवाड़ा करने वाले आरोपियों को पुलिस ने पकड़ने में सफलता पाई है। मामले का खुलासा करते हुए बताया कि प्रार्थी अभय गावडे पिता स्व.बालकृष्ण गावडे उम्र 67 वर्ष निवासी ए-8/6 ग्रीन बीटल रेसिडेन्स दीपक नगर ने थाना मोहन नगर ने में 19 सितम्बर 2022 को उपस्थित होकर लिखित षिकायत प्रस्तुत किया कि वह पीएचई विभाग (मैकेनिकल) कर्वधा से वर्ष 2018 में सेवानिवृत्त हुआ हूँ मुझे और मेरी पत्नी को शषि यादव एवं प्रदीप यादव द्वारा मेरे बच्चों का क्लासमेट होने का भरोसा दिलाकर घर आना-जाना शुरू किया एवं दोनों के द्वारा हम भी आपके बच्चे ही है कहकर व्यवाहारिक संबंध स्थापित कर विष्वास अर्जित करते हुए भिन्न-भिन्न कारण बताते हुए योजनाबऋ तरीको से अलग-अलग तिथियों में कुल 1,20,99,093/-(एक करोड़ बीस लाख निन्यानवे हजार तिरानवे रूपये) लेकर धोखाधड़ी किया। प्रार्थी के रिपोर्ट पर थाना मोहन नगर में अपराध क्रमांक 330/2022 धारा 120 बी, 34, 420 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
उक्त घटना को अत्यंत गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ.अभिषेक पल्लव के द्वारा आरोपियों की शीघ्र पतासाजी कर गिरफ्तारी करने के संबंध में निर्देश दिए। जिसके परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) संजय ध्रुव (रापुसे), नगर पुलिस अधीक्षक, वैभव बैंकर (भापुसे), उप पुलिस अधीक्षक (क्राईम) नसर सिद्धीकी (रापुसे) के मार्गदर्शन में एवं ए.सी.सी.यू प्रभारी निरीक्षक संतोष मिश्रा तथा थाना प्रभारी मोहन नगर निरीक्षक विपिन रंगारी के नेतृत्व में थाना मोहन नगर एवं एसीसीयू की संयुक्त टीम गठित कर टीम को कार्यवाही हेतु लगाया गया।
टीम द्वारा प्रार्थी से विस्तृत पूछताछ कर आवश्यक जानकारी एकत्र की गयी। आरोपी शषि यादव एवं प्रदीप यादव घटना कारित कर फरार हो गये थे। टीम द्वारा प्रार्थी के रकम जिन खातों में ट्रांसफर किये गये थे उन बैंक खातों की विस्तृत जानकारी प्राप्त की गयी। आरोपियों कि पतासाजी एवं गिरफ्तारी हेतु सभी प्रयास किये जा रहे थे, आरोपी प्रदीप यादव व शषि यादव अपनी पहचान छिपाकर लगातार अपने ठिकानों को परिवर्तित कर रहे है। तकनीकी विष्लेषण से आरोपियों की उपस्थिति दुर्ग में ही होना पता चला। टीम द्वारा घेराबंदी कर आरोपी प्रदीप यादव एवं आरोपिया शषि यादव को पकड़ा गया। घटना के संबंध में पूछताछ करने पर प्रदीप यादव ने आरोपिया शषि यादव के साथ मिलकर योजनाबद्ध तरीके से धोखाधड़ी कर अपराध कारित करना स्वीकार किया। आरोपी प्रदीप यादव की निषानदेही पर 03 नग एटीएम कार्ड, 01 मोबाईल एवं आरोपी शषि यादव की निषान देही पर पेन कार्ड, एटीएम एवं पासबुक बरामद किया गया। अग्रिम कार्यावाही थाना मोहन नगर से की जा रही है।
सम्पूर्ण कार्यवाही में एण्टी क्राईम एण्ड सायबर यूनिट दुर्ग से सउनि शमित मिश्रा, प्र.आर. चन्द्रशेखर बंजीर, आरक्षक जावेद खान, तिलेष्वर राठौर, सनत भारती, कोमल राजपूत, नरेन्द्र सहारे, विक्रांत यदु एवं थाना मोहन नगर से उनि षिषुपाल चन्द्रवंषी की उल्लेखनीय भूमिका रही।
गिरफ्तार आरोपीः
– .प्रदीप यादव पिता सुभाष यादव उम्र 27 वर्ष निवासी स्टेषन पारा वार्ड नम्बर 22 कैलाष नगर दुर्ग स्थायी पता ग्राम कुलकुला पोस्ट सोढ़री थाना तहबरपुर जिला आजमगढ़ उ.प्र.
– श्रीमती शषि यादव पिता श्रीराम यादव उम्र 31 वर्ष निवासी एमआईजी 01/09 हुड़को थाना भिलाई नगर जिला दुर्ग छ.ग.

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment