फुटकर महिला सब्जी व्यापारी पर हुए जानलेवा हमले को लेकर विहिप ने किया नगर बंद का आह्वान

जिले में बस रहे रोहंगिया एवं उनके द्वारा लगातार किये जा रहे अपराध पर अंकुश लगाने की मांग को लेकर विहिप का कवर्धा बंद

कवर्धा। जिले में बढ़ते आपराधिक मामले एवं बाहरी लोगों के कवर्धा में आकर बसने की प्रक्रिया सतत जारी है । लगातार विश्व हिंदू परिषद व अन्य हिन्दू संगठन इस बाबत पुलिस प्रशासन व जिला प्रशासन को ज्ञापन देकर निवेदन करते रहे है । लेकिन आज पर्यंत इस तरह के अपराध पर अंकुश लगाने तथा बाहरी लोगों के चिन्हांकन करने की कोई कार्यवाही नही की गई ।
गत वर्ष 3 अक्टूबर को झन्डा विवाद के बाद हिंदुओ को मारने वाले तथा 3 व 5 अक्टूबर को तलवार लहराने वाले अपराधियों पर आज तक कोई कार्यवाही नही किया गया है ।
जिले में अलग अलग ऐसे 12 मामले संज्ञान में आया है जिसमे मुश्लिम समुदाय के लोगो ने हिंदुओ के साथ मारपीट और दुर्व्यवहार किया है । पर प्रशासन ने लगभग मामलो को लीपापोती कर ख़त्म करने व अपराधियों को बचाने का कार्य किया है ।
इसी क्रम में मामूली बातचीत के दौरान आज लोहारा नाका चौक में सब्जी का छोटा दुकान लगाने वाली राधिका साहू ,प्रकाश साहू, राजेश साहू, व उनके पिता बिरझु साहू पर दो मुश्लिम युवा अख्तर खान व उसके चार साथियों ने मिलकर जानलेवा हमला किया । जिसमे इन मुश्लिम युवाओं ने राधिका को जमीन में घिसटते हुए पेट पर लात मारा । इस अमानवीय घटना से कवर्धा के जनता में एक बार फिर आक्रोश व्याप्त है ।
पूरे वर्ष भर पुलिस को दिए गए ज्ञापनों में अव तक कार्यवाही नही हुई इसलिए आपराधिक तत्त्वों के हौशले बुलंद है ।
इस पूरे घटना को लेकर कल कवर्धा शहर बंद का आयोजन विहिप के बैनर तले आयोजित है विहिप ने कल 20 नवम्बर रविवार को नगर के व्यापारी बंधुओ से निवेदन किया है कल अपना व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद कर गरीब व्यवसायी के पक्ष में समर्थन दें ।
विहिप ने सभी हिन्दू समाज से गरीब सब्जी व्यापारी बहन के पक्ष में कवर्धा शहर बन्द के लिए स्थानीय लोहारा नाका चौक सुबह 08 बजे पहुंचने का आग्रह किया है । जिला साहू समाज ने सब्जी व्यापारी राधिका साहू के समर्थन में कवर्धा बन्द का पूर्ण समर्थन किया है । बन्द में साहू समाज का पूर्ण योगदान होगा ।

विहिप ने जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन से निम्न बिन्दुओ में कार्यवाही की मांग की है।
01. जिले भर में विगत कुछ वर्षो में 20 हजार से अधिक रोहंगिया व अन्य प्रान्तों से आकर बसने वाले मुस्लिम वर्ग के द्वारा जिले के शांति व्यवस्था को भंग किया जा रहा है . एवं स्थानीय निवासियों में भय व्याप्त करने की कोशिश की जा रही है . उक्त 20 हजार से अधिक संदिग्धों की वंशावली ,आपराधिक रिकार्ड जाँच कर पुन: उन्हें जहाँ से आये है वापस भेजा जाये . यह जिले के कानून व्यवस्था के लिए आवश्यक है।
02. पिछले वर्ष 03 व 05 अक्टूबर को कवर्धा भगवा ध्वज का अपमान हुआ जिसमे तलवार लहराने वालो के उपर कोई कार्यवाही नही हुई .ना ही आज तक किसी भी प्रकार से न्यायिक जाँच कराया गया है . विहिप लगातार एक वर्ष से न्यायिक जाँच की मांग कर रही है।
03. आज दिनाक 19.11.12 की घटना जिसमे हिन्दू बहन एवं भाइयों के घर घुसकर अख्तर खान एवं उनके साथियों बुरी तरीके से मारपीट की ,हिन्दू बहन के बाल को पकड़कर जमीन में घसीट कर मारपीट की या व तलवार से मारने की धमकी दी .in आरोपियों पर कठोरतम कार्यवाही हो।
04. जिले में अलग अलग स्थानों पर 12 से अधिक घटना कारित किया गया जिसमे मुशलिम आपराधियों में हिन्दुओ पर हमला किये और उन्हें नुकसान पहुचाया सभी मामलो में पुलिस प्रशासन ने मामले को दबाने व लीपापोती करने की कोशिश की जिसकी निष्पक्ष जाँच हो।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment