कांग्रेस कमेटी ने नरेंद्र मोदी के खिलाफ राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग में शिकायत दर्ज कराई

 

नई दिल्ली । दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ अनिल कुमार ने आज कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल के साथ भाजपा द्वारा गुजरात चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ छोटी बच्ची से चुनाव प्रचार करवाया जाने के खिलाफ नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स के चेयरमैन के सम्मुख जनपथ स्थित कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई तथा केन्द्रीय चुनाव आयोग में भी शिकायत भेजी गई। प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश अध्यक्ष चौ अनिल कुमार के साथ अभाक कमेटी के दिल्ली प्रभारी एवं पूर्व सांसद डा अजय कुमार, कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन एवं पूर्व विधायक श्री अनिल भारद्वाज शामिल थे। चौ अनिल कुमार ने कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव भाजपा द्वारा छोटी बच्ची के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सुरेन्द्र नगर गुजरात में एक वीडियों में बैठे दिखाई दिए। जिसमें छोटी लड़की भाजपा का प्रचार करते हुए भाजपा की उपलब्धियों को गिना रही है, जिसकी प्रधानमंत्री सराहना भी कर रहे है। भाजपा द्वारा बच्चों से चुनाव प्रचार कराना चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का उलंघन है क्योंकि चुनाव आयोग के साफ निर्देश है कि चुनाव के दौरान कोई भी राजनीतिक पार्टी छोटे बच्चों से चुनाव प्रचार नही कराऐगी। चौ अनिल कुमार ने कहा कि 7 वर्षीय लड़की को भाजपा की उपलब्धियां रटवाकर उसके मानसिक तनाव को बढ़ाने का काम भाजपा नेताओं ने किया है। यदि किसी बच्चे को इस तरह के भाषण देने के लिए मजबूर किया जाता है, तो यह बच्चे की स्वतंत्र सोच को प्रभावित कर सकता है और जीवन में उसके दृष्टिकोण, परिवेश में नकारात्मक बदलाव के साथ बड़े होने पर कई प्रकार की मनोवैज्ञानिक जटिलताऐं भी पैदा हो सकती है, जिसके लिए भाजपा नेताओं सहित श्री नरेन्द्र मोदी भी बराबर के भागीदार होंगे। चौ अनिल कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग बाल अधिकारों और सुरक्षा को देखते हुए पूरी तरह असंवेदनशील है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा छोटी बच्चे का चुनाव प्रचार में इस्तेमाल करना पूरी तरह कानून का खुला उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा राजनीतिक अभियान के लिए मासूस बच्चे का दुरुपयोग करने के लिए श्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ उचित कार्यवाही होनी चाहिए, जिसकी कांग्रेस ने राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग और चुनाव आयोग में लिखित शिकायत की है।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment