हिमाचल के युवक की निकली 45 करोड़ की लाटरी, कुवैत में करता है इंजीनियरिंग

दोहा । कहते हैं आपकी किस्मत कब खुल जाए इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता, अगर यकीन नहीं तो इस खबर को पढ़ लीजिए। कुवैत में रहने वाले प्रवासी भारतीय परमानंद दलीप जोकि मूलत: हिमाचल प्रदेश के हैं, की 20 मिलियन एईडी (लगभग 45 करोड़ भारतीय रुपये) की लाटरी लगी है। 48 साल के मैकेनिकल इंजीनियर दलीप ने 102वें महजूज सुपर सैटरडे में यह लाटरी जीती। दिलीप महजूज की लाटरी से करोड़पति बनने वाले 30वें विजेता हैं।
दिलीप मूलत: हिमाचल के रहने वाले हैं और तीन बच्चों के पिता हैं। वह एईडी 100,000 के गारंटीकृत रफ़ल ड्रा को जीतने के एकमात्र इरादे से नियमित रूप से महज़ूज़ ड्रॉ में भाग लेते रहे। परमानंद दलीप ने कहा उस यादगार रात में जब मुझे महज़ूज़ से ईमेल मिला तो मेरे रोंगटे खड़े हो गए।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment