पीटी ऊषा बनेंगी भारतीय ओलिंपिक संघ की अध्यक्ष, रेस ट्रैक से बाहर रचेंगी नया इतिहास

नई दिल्ली । रेस ट्रैक पर भारत के लिए नई ऊंचाईयां छूने वाली महान एथलीटी पीटी ऊषा के शानदार करियर में अब एक और उपलब्धि जुडऩे जा रही है। एशियन गेम्स में कई गोल्ड मेडल और ओलिंपिक में भारत की पहचान बनाने वाली पीटी ऊषा अब भारतीय ओलिंपिक संघ की बॉस बनने जा रही हैं। पीटी ऊषा ने आईओए अध्यक्ष के चुनाव लडऩे का ऐलान किया था और अब उनका निर्विरोध चयन लगभग तय है। 10 दिसंबर को इसका औपचारिक ऐलान हो सकता है और इस तरह वह आईओए की पहली महिला अध्यक्ष बन जाएंगी।
आईओए के चुनाव 10 दिसंबर को होने हैं और इस पद के लिए वह अभी तक अकेली उम्मीदवार हैं। इन चुनावों के लिए नामांकन की समयसीमा रविवार 27 नवंबर ही थी, जो खत्म हो चुकी है। ऐसे में अब पीटी ऊषा का निर्वाचन महज औपचारिकता रह जाएगा। ऊषा के इस निर्वाचन के साथ ही खेल संघों में सबसे ऊंचा पद संभाल रहे पूर्व खिलाडिय़ों में एक और नाम जुड़ जाएगा। हाल के वक्त में हॉकी और फुटबॉल में ये बदलाव हुआ है, जबकि इन सबसे अलग बीसीसीआई में भी ये बदलाव हुआ है।
ऊषा की टीम में 14 और लोग
दिग्गज भारतीय रेसर ने रविवार को अपना नामांकन दाखिल किया। सिर्फ पीटी ऊषा ही नहीं, बल्कि इन चुनावों में उनकी टीम के रूप में 14 अन्य लोगों ने विभिन्न पदों के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया, जिसमें ओलिंपिक मेडलिस्ट निशानेबाज गगन नारंग, पहलवान योगेश्वर दत्त जैसे बड़े नाम भी शामिल हैं। कई एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता 58 साल की उषा 1984 के ओलंपिक 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल में चौथे स्थान पर रहीं थी।
इन पदों के लिए है होड़
आईओए के चुनाव अधिकारी उमेश सिन्हा को शुक्रवार और शनिवार को कोई नामांकन नहीं मिला लेकिन रविवार को विभिन्न पदों के लिए 24 उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किये। इन चुनावों में उपाध्यक्ष (महिला), संयुक्त सचिव (महिला) के पद के लिए मुकाबला होगा। एग्जीक्यूटिव काउंसिल के चार सदस्यों के लिए 12 प्रत्याशी मैदान में है।
आईओए में एक अध्यक्ष, एक वरिष्ठ उपाध्यक्ष, दो उपाध्यक्ष (एक पुरुष और एक महिला), एक कोषाध्यक्ष, दो संयुक्त सचिव (एक पुरुष और एक महिला), 6 अन्य एग्जीक्यूटिव काउंसिल सदस्यों के लिए चुनाव होंगे। इनमें दो (एक पुरुष और एक महिला) निर्वाचित एसओएम से होंगे। कार्यकारी परिषद के दो सदस्य (एक पुरुष और एक महिला) एथलीट आयोग के प्रतिनिधि होंगे।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment