ट्रक ड्राइवरों ने मांगा 10 हजार रु. वेतन और 500 रु. दैनिक भत्ता

राजनांदगांव ट्रक ड्राइवर एकता संगठन ने उठाई तेरह सूत्रीय मांग 
– हेल्परों को भी सात हजार की मासिक पगार देने की रखी मांग

राजनांदगांव। ट्रक ड्राइवरों ने दस हजार रु. मासिक वेतन और 500 रु. दैनिक भत्ता समेत तरह सूत्रीय मांगों को लेकर आवाज बुलंद की है। हेल्परों के हक में भी आवाज उठाई गई है।
राजनांदगांव ट्रक ड्राइवर एकता संगठन ने ट्रक चालकों और कंडक्टरों ( हेल्पर ) के लिए तेरह सूत्रीय मांगों का ज्ञापन ट्रक मालिक संघ डोंगरगढ़ एवं राजनांदगांव को सौंपा है। ज्ञापन में लाईन में ट्रक चलाने वाले ड्राइवरों को दस हजार रु. प्रतिमाह वेतन, 500 रु. दैनिक भत्ता, हेल्परों को सात हजार रु. वेतन, राईस मिलों में चलने वाले ड्राइवरों को प्रतिमाह 20 हजार रु. वेतन, 100 रु. भत्ता, लोकल में गाड़ी खड़ी रहने पर कंडक्टरों को 200 रु रोजाना भत्ता, दुर्घटना में घायल होने पर ड्राइवर हेल्पर को पूरी चिकित्सा सुविधा मालिक द्वारा अपने खर्च पर उपलब्ध कराने, इलाज जारी रहने की पूरी अवधि का वेतन देने, दुर्घटना में जान गंवाने वाले ड्राइवरों व हेल्परों के परिजनों को तुरंत 50 हजार रु. की सहायता राशि गाड़ी मालिक की ओर से दी जाने, यदि कोई ड्राइवर नौकरी अपनी मर्जी से छोड़ता है और कोई मालिक किसी ड्राइवर को नौकरी से हटाता है तो इसकी सूचना दोनों पक्ष द्वारा एक माह पूर्व ट्रक ड्राइवर एकता संगठन को देने की मांग की गई है। ट्रक ड्राइवरों और हेल्परों से अकारण मारपीट करने वाले ट्रक मालिक को ब्लैक लिस्ट करने की चेतावनी दी गई है।

यदि कोई ड्राइवर किसी भी तरह की गलती करता है, तो इसकी सूचना मालिक की ओर से संगठन को देने का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि गलती करने वाले ड्राइवर पर संगठन एक्शन लेगा। आगे कहा गया है कि अगर कोई ड्राइवर या हेल्पर गाड़ी से सामान चोरी करते पाया जाता है, तो संगठन उससे सामान की कीमत से दोगुना जुर्माना वसूलेगा और ड्राइवर हेल्पर को दो माह तक बिना वेतन काम करना होगा। ड्राइवर हेल्परों को आधार कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस की छायाप्रति संगठन कार्यालय में जमा करानी होगी। कहा गया है कि यदि किसी ट्रक से रास्ते में सामान चोरी हो जाता है, तो ड्राइवर इसकी सूचना तत्काल निकटतम थाने में तथा गाड़ी मालिक और संगठन को दे। ट्रक मालिकों द्वारा ड्राइवरों और हेल्परों को जो वर्तमान में खर्चा दिया जा रहा है, वह यथावत रहेगा। जो व्यवस्थाएं संगठन द्वारा की गई हैं और जो मांगें रखी गई हैं, वे संगठन से जुड़े ड्राइवरों व हेल्परों के लिए ही मान्य हैं।
ज्ञापन सौंपने वाले प्रतिनिधि मंडल में संगठन के अध्यक्ष हेमनाथ देवांगन, उपाध्यक्ष नंदकिशोर साहू, सचिव तुनिल कुमार देवांगन, कोषाध्यक्ष भानुप्रताप देशमुख, संयुक्त सचिव जितेंद्र यादव गंगू, मीडिया प्रभारी नीलेश गहरवार आदि शामिल थे।

mithlabra
Author: mithlabra