नक्सलियों ने एक पेटी ठेकेदार व 3 कर्मचारी का किया अपहरण

-परिजनों ने की रिहाई की अपील
बीजापुर । जिले के धुर नक्सल प्रभावित इलाके के ग्राम गोरना-मनकेली क्षेत्र में 24 दिसंबर को एक पेटी ठेकेदार एवं तीन उनके कर्मचारी निमेद्र कुमार दीवान, नीलचंद नाग निवासी कोंडागांव टेमरू नाग निवासी लोहंडीगुड़ा के साथ ही बारसूर निवासी चापड़ी बत्तैया नक्सल प्रभावित इलाके में सड़क निर्माण कार्य करने के लिए नक्सलियों से चर्चा या अनुमति लेने के लिए अंदरूनी इलाकों में गए थे, इसके बाद सभी लापता हो गये। इसके बाद दो दिन पूर्व परिजनों के पास एक मोबाईल मेसेज आया जिसमें यह बताया गया कि नक्सलियों ने उनका अपहरण कर लिया गया है, और उन्हे पामेड़ के गोंड़पल्ली इलाके में रखा गया है। इसके बाद लापता उक्त पेटी ठेकेदार एवं अन्य तीन के परिजन उनकी तलाश में बीजापुर के गंगालूर इलाके में पहुंचकर सामाजिक कार्यकर्ता सोनी सोरी के साथ परिजनों ने नक्सल संगठन से सकुशल रिहाई के लिए मार्मिक अपील की गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज सामाजिक कार्यकर्ता सोनी सोरी के साथ लापता उक्त पेटी ठेकेदार एवं अन्य तीन के परिजन नक्सल इलाके में तलाश के लिए आज रवाना होने वाले थे, इसकी जानकारी नही मिली है कि वे आगे कहां गये हैं, और लापता परिजनों का उन्हे कोई सुराग मिला या नही। सामान्यत: नक्सली अपहरण के मामले में परिजन पहले पुलिस के पास नही पंहुचते हैं, इससे अपने परिजनों के साथ अनहोनी की आशंका होती है, परिजन पहले स्वयं नक्सलियों तक पंहुचने का प्रयास करते हैं। इस मामले में भी यही कुछ होता दिख रहा है। आने वाले दिनों में इस पर हुई प्रगति की जानकारी मिलेगी तब जाकर स्थिति स्पष्ट होगी। इसे लेकर नक्सलियों की ओर से अब तक कोई प्रतिक्रिया सामने नही आई है।
बीजापुर एपी आंजनेय वार्ष्णेय ने कहा कि वायरल वीडियो से अपहरण की जानकारी मिल रही में है, लेकिन हमारे पास इस मसले को लेकर कोई आवेदन नहीं आया है और ना ही कोई परिजन बतौर आवेदक या सूचना देने पहुंचा है, बावजूद इसके वायरल वीडियो में जो कहा गया है, हम उसकी तस्दीक कर रहे हैं और अपने स्तर पर जानकारी जुटा रहे हैं।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment