नशे में धुत्त शख्स ने Air India की फ्लाइट में महिला पर किया पेशाब, क्रू मैंबर नहीं कर पाए कार्रवाई

नई दिल्ली। न्यूयॉर्क से दिल्ली आने वाली फ्लाइट में एक हैरान करने वाला मामाला सामने आया है। एक बुजुर्ग महिला ने आरोप लगाया है कि उसके साथ बिजनेस क्लास में सफर करने वाले एक शख्स ने गंदी हरकत की। महिला के मुताबिक उसने कपड़े उतार दिए और उसके ऊपर ही पेशाब कर दिया। वह एयर इंडिया के विमान में सफर कर रही थी। इसके बाद महिला ने केबल क्रू को अलर्ट किया लेकिन उन्होंने भी उस यात्री पर कोई कार्रवाई नहीं की। दिल्ली में फ्लाइट लैंड होने के बाद वह आराम से चला गया।

जब महिला ने टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन चंद्रशेखर को पत्र लिखकर इस बात की शिकायत की तो एयर इंडिया ने मामले की जांच शुरू की। महिला ने कहा कि आरोपी के पेशाब करने की वजह से उसके कपड़े, मोजे, जूते और बेग भीग गए। उन्होंने पत्र में कहा, इस संवेदनशील मामले को हैंडल करने में क्रू मेंबर विफल रहे। वे इसे गंभीरता से नहीं ले रहे थे। लंबे समय के बाद क्रू मुझे ही सलाह दे रहा था। मैं साफ कहना चाहती हूं कि इस तरह की घटना के बावजूद एयरलाइन का ध्यान मेरी सुरक्षा की ओर बिल्कुल नहीं था।

घटना 26 नवंबर की है। एयर इंडिया का विमान एआई-102 न्यूयॉर्क के जॉन एफ कैनडी एयरपोर्ट से वहां के 1 बजे दोपहर रवाना हुआ था। थोड़ी देर के ही बाद विमान की लाइट ऑफ कर दी गईं। महिला ने कहा, एक यात्री मेरे पास आया। उसने अपने पैंट की जिप खोली और पेशाब करने लगा। वह लगातार प्राइवेट पार्ट दिखा रहा था। पेशाब करने के बाद भी वह वहीं खड़ा रहा। जब सहयात्रियों ने उसका विरोध किया तब वह वहां से गया। उसके जाने के बाद महिला ने तत्काल यह बात केबिन क्रू को बताई। इसके बाद केबिन क्रू ने उनके बैग और कपड़ों पर छिड़काव किया।

महिला ने जब खुद की सफाई की तो क्रू ने उन्हें एक सेट कपड़ा और डिस्पोजल स्लिपर दिए। वह अपनी गीली सीट पर वापस नहीं लौटना चाहती थीं इसलिए बाथरूम में ही 20 मिनट खड़ी रहीं। इसके बाद उन्हें एक संकरी क्रू सीट दे दी गई जहां वो एक घंटे बैठी रहीं। इसके बाद उनसे अपनी सीट पर वापस जाने को कहा गया। उन्होंने कहा कि सीट से बदबू आ रही थी। इसके दो घंटे बाद उन्हें दूसरी क्रू सीट दे दी गई। बाद में उन्हें पता चला कि फर्स्ट क्लास में कई सीटें खाली थीं।

उन्होंने आरोप लगाया कि क्रू मेंबर्स को उनकी बिल्कुल परवाह नहीं थी। फ्लाइट लैंड होने के बाद कहा गया कि उन्हें व्हीलचेयर दी जाएगी। हालांकि 30 मिनट तक इंतजार करने के बाद भी ऐसा नहीं किया गया। आखिर में खुद ही सामान भी उठाना पड़ा। एयर इंडिया की तरफ से कहा गया है कि इस बात की जानकारी रेग्युलेटरी अथॉरिटी और पुलिस को दे दी गई है। एयरलाइन पीड़ित यात्री से लगाता संपर्क में है। एयर इंडिया के एक अधिकारी ने कहा कि एयरलाइन ने इंटरनल कमिटी बनाकर सरकार से आऱोपी यात्री को नो फ्लाइ लिस्ट में डालने की सिफारिश की है। अब सरकारी समिति को आगे का फैसला करना है।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment