अंगीठी ने सुलाया मौत की नींद, 10 ने गंवाई जान

बठिंडा । ठंड में अंगीठी चलाकर सो रहे 2 राज्यों में 10 लोगों की मौत होने का मामला सामने आया है। राजस्थान के चूरू जिले के रतनगढ़ में सर्दी से बचने के लिए कमरे में अंगीठी जलाकर सोए परिवार की दम घुटने से 3 लोगों की मौत हो गई। वहीं एक बच्चा गंभीर रूप से घायल है और बीकानेर में भी ऐसी ही घटना में पति-पत्नी की मौत हो गई। वहीं पंजाब के संगरूर जिला की तहसील सुनाम के गांव च_ा ननहेड़ा के शेलर में पांच मजदूरों की मौत हो गई। जबकि एक बेसुध मजदूर अस्पताल में उपचाराधीन है।
चूरू जिले के रतनगढ़ सीआई सुभाष बिजारणिया ने बताया कि रविवार रात को गौरीसर गांव निवासी अमरचंद प्रजापत की पत्नी सोना देवी (58), बहू गायत्री देवी (36) पति राजकुमार, पोती तेजस्विनी (3) और 3 महीने का पोता खुशीलाल एक कमरे में सो रहे थे। सुबह जब परिजनों ने कमरे में आवाज लगाई तो अंदर कमरे से कोई आवाज नहीं आई। अमरचंद ने खिड़की तोड़कर देखा तो सभी लोग सौ रहे थे वहीं 3 महीने का पोता खुशीलाल रो रहा था। जब खिड़की तोड़ अंदर कमरे में गए तो देखा पति, पत्नी व पोती मृत थी। वहीं घायल बच्चे को डाक्टरों ने वेटिलेंटर पर रखा है।
बीकानेर के बीछवाल थाना क्षेत्र में भी दम घुटने से पति-पत्नी की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि अनिल (40) और पूर्णिमा (36) रात को कमरे में सिगड़ी जलाकर सो गए थे।
संगरूर की तहसील सुनाम के गांव च_ा ननहेड़ा के शेलर में 5 मजदूरों की मौत हो गई। जबकि एक बेसुध मजदूर अस्पताल में उपचाराधीन है। हादसे में जान गंवाने वाले मजदूरों की पहचान बिहार निवासी अंत कुमार, राधे सदा, सचिन कुमार, सतवाण कुमार और नारायण सदा के रूप में हुई है।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment