भाजपा कार्यकारिणी की बैठक में मोदी का वर्करों को मंत्र, समाज में हाशिये पर खड़े लोगों से बनाओ भावनात्मक संबंध

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के कार्यकाल को डेढ़ वर्ष के विस्तार देने तथा कार्यकर्ताओं को नौ राज्यों के विधानसभा चुनावों एवं आगामी लोकसभा चुनावों में गुजरात मॉडल पर हर हालत में जीत हासिल करने के संदेश के साथ आज शाम संपन्न हुई। दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के समापन अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने मार्गदर्शक संबोधन में भाजपा के नेतृत्व को आज सलाह दी कि वे प्राथमिक सदस्यों के लिए जिला स्तर पर सम्मेलनों का आयोजन करें तथा पार्टी के कार्यकर्ताओं को संदेश दिया कि वे वोट की राजनीति से ऊपर उठ कर देश के विकास एवं समाज के कल्याण के लिए जुटें और समाज के सभी वर्ग खासकर हाशिये पर पड़े लोगों से भावनात्मक संबंध स्थापित करें। उन्होंने भाजपा के संगठन को देश के विकास से जोड़ने का मंत्र दिया तथा कार्यकर्ताओं से कहा कि वे अपने जीवन का क्षण-क्षण भारत की विकास गाथा में लगाएं। इस ‘अमृत काल’ को ‘कर्तव्य काल’ में परवर्तित करने से ही देश को आगे ले जाया जा सकता है। अध्यक्षीय उद्बोधन में पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि वर्ष 2023 बहुत महत्वपूर्ण है। इस वर्ष नौ राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं और अगले साल लोकसभा चुनाव हैं। हमें एक भी चुनाव हारना नहीं है। जहां सरकार है, उसे मजबूत करना है और जहां सरकार नहीं है, उसे और मजबूत करना है। नड्डा ने पार्टी जनों को जीत के लिए गुजरात का मंत्र देते हुए कहा कि गुजरात में 27 साल के शासन के बाद भी 150 से अधिक सीटें जीतना अभूतपूर्व एवं ऐतिहासिक है। जिस प्रकार से प्रधानमंत्री श्री मोदी ने परिश्रम किया और संगठन ने काम किया, अन्य राज्यों में संगठन को इससे सीखना चाहिए। श्री नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी की रूपरेखा के अनुसार हमें 72 हजार कमजोर बूथों को चिह्नित करके मजबूत करने का लक्ष्य मिला था। हर लोकसभा क्षेत्र में 100 बूथ और प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 25 बूथों तक पहुंचना था लेकिन हम एक लाख 30 हजार से अधिक बूथों तक सफलतापूर्वक पहुंचे। कार्यकारिणी में भाजपा अध्यक्ष नड्डा के कार्यकाल को आगामी लोकसभा चुनाव तक करीब डेढ़ वर्ष तक के लिए बढ़ाने को सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस प्रस्ताव को रखा और सभी सदस्यों ने हर्षध्वनि से इस प्रस्ताव को स्वीकार किया। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नड्डा के नेतृत्व में बिहार महाराष्ट्र हरियाणा, मणिपुर, गुजरात में बहुत बड़ी जीत दर्ज दी। पश्चिम बंगाल में तीन सीटों से 77 सीटों का फासला तय किया। उन्होंने विश्वास जताया कि नड्डा के नेतृत्व में भाजपा वर्ष 2024 के संसदीय चुनावों में 2019 से अधिक बहुमत से जीत हासिल दर्ज करेगी।
कार्यकारिणी में दो प्रस्ताव -राजनीतिक प्रस्ताव तथा आर्थिक-सामाजिक प्रस्ताव पारित किया गया जबकि विदेश मंत्री एस जयशंकर ने जी-20 पर तथा विधान परिषद सदस्य सम्राट चौधरी ने गरीब कल्याण पर अलग अलग वक्तव्य पेश किये। राष्ट्रीय कार्यकारिणी में राजनीतिक प्रस्ताव केन्द्रीय कानून मंत्री किरन रिजीजू ने पेश किया जिसका उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं कर्नाटक के मंत्री गोविंद करजोल ने अनुमोदन किया। नौ बिन्दुओं वाले राजनीतिक प्रस्ताव में भाजपा ने पेगासिस, राफेल, नोटबंदी आदि मामलों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर विपक्ष के निजी हमलों का उच्चतम न्यायालय में खत्म होने पर संतोष व्यक्त करते हुए श्री मोदी को उनके स्वच्छ एवं बेदाग छवि के साथ देश की सेवा करने तथा भारत की छवि वैश्विक स्तर पर नयी ऊंचाई देने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। प्रस्ताव में यह भी रेखांकित किया गया कि प्रधानमंत्री श्री मोदी की देश में आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक विरासत बढ़ाने में भूमिका रही है। काशी विश्वनाथ कॉरीडोर हो, अयोध्या में राममंदिर हो या उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर का महाकाल महालोक हो। बुद्ध सर्किट, रामायण सर्किट, ये सब प्रधानमंत्री की सांस्कृतिक भावना का प्रकटीकरण है। सिखों के दसवें गुरू गोविंद सिंह के साहिबज़ादे बाबा जोरावर सिंह और बाबा फतेह सिंह की शहादत की याद में 26 दिसंबर को शहीद वीर बालक दिवस मनाये जाने पर भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में हर्ष व्यक्त किया गया। कार्यकारिणी ने प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा वैश्विक दक्षिण के 125 देशों के शिखर सम्मेलन दि वॉयस ऑफ ग्लोबल साउथ के आयोजन की भी सराहना की और कहा कि भारत की अध्यक्षता में विकासशील देशों की आवाज़ को जी-20 के मंच पर स्थान मिलेगा।

बैठक के दूसरे दिन आज पारित सामाजिक आर्थिक प्रस्ताव में भारत को विकसित राष्ट्र बनाने के लिए अवसंरचना, डिजीटल एवं कारोबारी वातावरण के विकास के साथ ही एक समावेशी सर्वस्पर्शी समाज बनाने की दिशा में कारगर पहल करने के लिए मोदी सरकार की सराहना की गयी। इस प्रस्ताव को महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस ने प्रस्तुत किया तथा विदेश एवं संसदीय कार्य राज्य मंत्री वी मुरलीधरन और सांसद सुनीता दुग्गल ने अनुमोदन किया। जी 20 के बारे में विदेश मंत्री डॉ. जयशंकर के वक्तव्य में कहा गया कि पिछले आठ वर्षों में भारत की छवि दुनिया में बदल गई है। पहले हम किसी भी समस्या का सामना करने के लिए अन्य देशों पर निर्भर होते थे, लेकिन आज बड़ी से बड़ी महामारी का हम मुकाबला भी कर रहे हैं और दूसरे देशों की मदद भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत में इस वर्ष 50 से अधिक स्थानों पर जी-20 समूह की 200 से अधिक बैठकें होंगी ताकि विकसित देशों को भारत की प्रगति एवं संस्कृति दोनों को देखने का अवसर मिले। वोकल फॉर लोकल की ताकत भी मेहमान देश देखेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी ने देश भर में लोगों एवं समाजों को जी-20 से जोड़ने पर जोर दिया है। भाजपा के कार्यकर्ता व्यक्ति के रूप में एवं सामाजिक संगठनों के माध्यम से सभी वर्गों को जोड़ेंगे और आधुनिक एवं नये भारत की क्षमता विस्तार का परिचय देंगे। गरीब कल्याण पर वक्तव्य में कहा गया कि आठ वर्ष पहले जब प्रधानमंत्री मोदी ने शपथ ली थी तब कहा था कि मेरी सरकार शोषितों, वंचितों और गरीबों को समर्पित रहेगी। आठ वर्षों में शोषितों, वंचितों और गरीबों को आगे बढ़ाने का काम भाजपा सरकार ने किया है। गरीब कल्याण योजना में गरीबों को पक्के आवास, बिजली एवं पानी से लेकर मुफ्त खाद्यान्न, स्वास्थ्य बीमा एवं छात्रवृत्ति तक प्रदान की है। युवाओं को स्वरोज़गार के लिए प्रेरित किया। केन्द्र सरकार के कार्यों को राजग शासित राज्यों में डबल इंजन की सरकार ने अपने अपने ढंग से आगे बढ़ाया। कृषि कल्याण योजना, महामारी के बाद 80 करोड़ लोगों को खाद्यान्न देना, महिलाओं के लिए लाड़ली लक्ष्मी से लेकर स्वच्छता एवं सुरक्षा की योजनाएं गरीबों के उत्थान में कारगर साबित हुईं हैं। वक्तव्य में कहा गया कि गरीब कल्याण योजना को अंत्योदय के माध्यम से क्रियान्वित किया गया है। बीते आठ वर्षों में अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग के कल्याण के लिए अभूतपूर्व काम हुआ है।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment