सर्दी के मौसम की बारिश के बीच कठुआ जिले से आगे बढ़ी राहुल की भारत जोड़ो यात्रा

-संजय राउत सहित कई वरिष्ठ नेता हुए शामिल
कठुआ (जम्मू-कश्मीर) । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने सर्दी के मौसम की बारिश के बीच शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में हटली मोड़ से पार्टी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ फिर शुरू की, जिसमें शिवसेना (उद्धव ठाकरे गुट) के संजय राउत सहित कई बड़े नेता शामिल हुए। इस दौरान, राहुल सफेद टी-शर्ट पर काले रंग की बरसाती (रेनकोट) पहने नजर आए। यात्रा सुबह 7 बजे आरंभ होनी थी, लेकिन खराब मौसम के कारण यह एक घंटे 15 मिनट की देरी से शुरू हुई।
तमिलनाडु के कन्याकुमारी से सात सितंबर को शुरू हुई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ 30 जनवरी को श्रीनगर में संपन्न होगी, जहां राहुल जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी में राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे। ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के अंतिम चरण में राहुल के साथ पार्टी की जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष विकार रसूल वानी और उनके पूर्ववर्ती जीए मीर सहित कई कांग्रेस नेता नजर आए। शिवसेना (उद्धव ठाकरे गुट) के संजय राउत ने कहा, ‘मैं अपनी पार्टी की ओर से यात्रा में शामिल होने आया हूं। देश में माहौल तेजी से बदल रहा है और मैं राहुल को वास्तविक मुद्दों पर आवाज उठाने वाले नेता के रूप में देख रहा हूं।’ उन्होंने कहा, ‘जिस तरह से लोग इस यात्रा से जुड़ रहे हैं, यह दिल को छू लेने वाला है। वह एक नेता हैं और इसलिए वह सड़कों पर हैं। जनता फैसला करेगी (उनका नेता कौन होगा)।’ यात्रा ने बृहस्पतिवार को लखनपुर से जम्मू-कश्मीर में प्रवेश किया और झंडा सौंपने के समारोह के बाद वहीं रात्रि विश्राम किया।
नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने बृहस्पतिवार को राहुल की अगुवाई वाली ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के जम्मू-कश्मीर में दाखिल होने पर उसका स्वागत किया था। जम्मू-कश्मीर के कई हिस्सों में शुक्रवार सुबह से ही बारिश हो रही है। हालांकि, राहुल ने अपने समर्थकों के साथ देरी से ही सही, लेकिन यात्रा शुरू की। यात्रा के लिए पुलिस और केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों की तैनाती के साथ सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। यात्रा शुरू होने से कुछ घंटे पहले कांग्रेस के कई कार्यकर्ता और समर्थक तिरंगा लेकर कठुआ पहुंचे। शुक्रवार को यात्रा के तहत 25 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। ‘भारत यात्री’ रात में कठुआ जिले के चडवाल में विश्राम करेंगे। शनिवार को भी ‘भारत यात्री’ विश्राम करेंगे। इस बीच, तख्तियां और माला लिए कई युवाओं को जम्मू-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर अलग-अलग स्थानों पर इंतजार करते देखा गया, जहां से यात्रा गुजरने वाली है।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment