आस्था एवं विश्वास का अद्भुत संगम, जब 6 माह के बच्चे को ख़ौलते दूध से नहलाया…

– सर्व यादव समाज के द्वारा कराह पूजा का विशाल आयोजन
रामानुजगंज। ग्राम विजयनगर के बाकी नदी के तट पर आस्था एवं विश्वास का अद्भुत संगम देखने को मिला जब कराह पूजा के दौरान ख़ौलते हुए दूध से जय श्री कृष्ण एवं महामाया मां की जय के जयकारे लगाते हुए गोविंद भगत यादव स्नान करने लगे तो 15 से अधिक गांव के आए लोगों की सांसे रुक गई। उनके द्वारा 5 घड़ो में ख़ौलते हुए दूध को अपने शरीर पर डाला वही खोलते हुए दूध में सिर भी अपना डाल दिया था। सर्व यादव समाज के द्वारा कराह पूजा का विशाल आयोजन कराया गया था। विधि विधान से कराह पूजन का अनुष्ठान कराया गया।


कराह पूजा कराने वाराणसी से आए गोविंद भगत यादव ने बताया कि द्वापर युग से कराह पूजा होते आ रहा है। श्री कृष्ण भगवान यह पूजा कराते थे। जग कल्याण के लिए यह पूजा होता है इससे वातावरण शुद्ध होता है बीमारी दूर होता है। पशु पक्षी भी स्वस्थ रहते हैं। सर्व यादव समाज के नरेश यादव ने बताया कि क्षेत्र में पहली बार कराह पूजा का आयोजन कराया जा रहा है। आयोजन को लेकर कई दिन पूर्व से व्यापक स्तर में तैयारियां की गई थी। कराह पूजा के दौरान विशाल भंडारे का भी आयोजन किया गया जिसमें हजारों लोगों के द्वारा प्रसाद ग्रहण किया गया। इस दौरान हरी प्रसाद यादव, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष पुष्पा नेताम, पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्य साधु चरण यादव मंडी, अध्यक्ष जमुना सागर सिंह, जनपद पंचायत के उपाध्यक्ष बी लाल गुप्ता, भाजपा मंडल अध्यक्ष शर्मिला गुप्ता, कांग्रेस किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष विकास दुबे,देव वंश यादव, मिखाइल एक्का, अनिल पांडे संतोष यादव पलगी, अनोज यादव, मनी यादव, सुखदेव यादव, पंकज यादव, बालमुकुंद यादव,राजकुमार यादव सहित हजारों की संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।


6 माह के बच्चे को भी ख़ौलते दूध से नहलाया…
बनारस से कराह पूजा कराने पहुंचे गोविंद भगत यादव के द्वारा अनुष्ठान के दौरान 6 माह के बच्चे को भी ख़ौलते हुए दूध से नहलाया परंतु बच्चे के शरीर पर लाल तक के निशान नहीं बने। गोविंद भगत के द्वारा कई बार आग में भी घुसे परन्तु शरीर मे खरोच तक नही आया।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment