ओडिशा को पर्यटकों के वैश्विक हॉटस्पॉट के रूप में विकसित करने के प्रयास जारी : नवीन पटनायक

भुवनेश्वर । ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि सरकार राज्य को पर्यटकों के वैश्विक हॉटस्पॉट के रूप में विकसित करने के लिए ठोस प्रयास कर रही है। सीएम नवीन पटनायक ने जाजपुर में एक वर्चुअल प्लेटफॉर्म के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय शिल्प शिखर सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए कहा, राज्य सरकार ओडिशा को पर्यटकों के वैश्विक आकर्षण के केंद्र के रूप में विकसित करने, आजीविका और रोजगार के अवसर प्रदान करने और राज्य को निवेशकों के लिए आकर्षक बनाने के लिए ठोस प्रयास कर रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा, हम अपने पर्यटन, हथकरघा और हस्तशिल्प क्षेत्र के समग्र विकास के लिए तंत्र विकसित कर रहे हैं। हमने राज्य पर्यटन नीति, हस्तकला नीति, परिधान और तकनीकी टेक्सटाइल नीति जैसी विभिन्न नीतियां बनाई हैं। उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार पर्यटन और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न स्थानों पर आर्ट गैलरी भी खोल रही है।
सीएम ने आगे कहा कि जाजपुर ओडिशा की प्राचीन राजधानी थी। धार्मिक पर्यटन, शहरी पर्यटन और बौद्ध पर्यटन की अपनी मौजूदा संपत्ति के साथ, इसमें एक प्रमुख पर्यटन केंद्र बनने की क्षमता है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि ओडिशा बेदाग कला और शिल्प की एक शानदार भूमि है। इसकी सभ्यता यात्रा कलात्मक संस्कृति की यात्रा है। हमारे शिल्पकारों के कलात्मक कौशल कई तरीकों से परिलक्षित होते हैं। आप इसे हमारे मंदिरों, हमारी मूर्तियों, बौद्ध मंदिरों, हाथ से बुने हुए कपड़े, पेंटिंग, लकड़ी के काम, धातु के काम .. हर जगह पा सकते हैं। हर गांव, हर गली ओडिशा कला या शिल्प के किसी न किसी रूप को प्रदर्शित करता है। ओडिशा की आत्मा हमारी कला, शिल्प, संगीत और संस्कृति में बसती है।
रिपोर्ट के अनुसार, स्थानीय कारीगरों और अन्य हितधारकों के साथ जुडऩे के लिए 15 देशों के अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि जाजपुर पहुंचे हैं। राज्य सरकार की ओर से इस ऐम्बिशस और फॉरवर्ड लुकिंग इवेंट को साकार करने के लिए संयुक्त राष्ट्र की चार एजेंसियों और पांच यूनेस्को क्रिएटिव शहरों ने जाजपुर जिले के साथ भागीदारी की है।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment