खून से लाल हुई सड़क : सड़क हादसों में किसान समेत पांच की मौत

ट्रक की टक्कर से किसान समेत दो युवकों ने दम तोड़ा
चालक को एक ट्रक ने मारी टक्कर, दूसरे ने कुचल डाला
बोलेरो और अज्ञात वाहन की टक्कर से दो युवकों की मौत

बांदा । पिछले चैबीस घंटों में हुए सड़क हादसों में एक किसान समेत पांच लोगों की मौत हो गई। बाइक तीन लोगों को ट्रक ने टक्कर मार दी, जिससे दो लोगों की मौत हो ई। वहीं बोलेरो और अज्ञात वाहन की टक्कर से दो युवकों की मौत हो गई। सड़क किनारे ट्रक खड़ा कर लघुशंका के लिए जा रहे किसान को पहले एक ट्रक ने टक्कर मार दी, जिससे वह सड़क पर जा गिरा। घटना कारित करने वाले ट्रक के पीछे आ रहे ट्रक उसे कुचलते हुए निकल गया। इससे चालक सड़क पर चिपट गया। उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। खबर पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी शवों को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इन सड़क हादसों के बाद मृतक परिवारों में कोहराम मचा हुआ है।
बबेरू कोतवाली क्षेत्र के भदेहदू गांव निवासी ओमप्रकाश (48) पुत्र भयाइलाल, उसका चचेरा भाई गया प्रसाद (48) पुत्र दयाधर और पड़ोसी फूलचंद्र (65) पुत्र रामआसरे बाइक में सवार होकर शादी में शामिल होने गए थे। ओमप्रकाश के भांजे रामदत्त की बारात बिसंडा गई थी। बाइक सवार तीनो लोग बिसंडा पहुंचे और शादी में शामिल होने के बाद रात को वापस लौटने लगे। बाइक सवार किसान ओमप्रकाश समेत तीनो लोग अभी कैरी गांव के पास ही पहुंचे थे तभी ट्रक ने तीनो बाइक सवारों को कुचल दिया। तीनो लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। खबर पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनो घायलों को उठाया। लेकिन तब तक किसान ओमप्रकाश और उसके पड़ोसी फूलचंद्र की मौत हो चुकी थी। घायल गया प्रसाद को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, वहां उसका उपचार किया जा रहा है। पुलिस ने दोनो शवों को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक ओमप्रमकाश किसानी करता था, उसके छह बीघा जमीन है। ओमप्रकाश के चचेरे भाई रामेश्वर ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि शादी में शामिल होकर वापस आते समय रास्ते में ट्रक ने टक्कर मार दी, जिससे ओमप्रकाश और फूलचंद्र की मौत हो गई। देहात कोतवाली क्षेत्र के करबई गांव निवासी रामबाबू (25) पुत्र मातादीन मेहनत-मजदूरी करके अपना भरण पोषण करता था। गुरुवार की देर शाम काम खत्म करने के बाद रामबाबू बाइक से अपने घर जा रहा था। रास्ते में गुरेह और ददरिया गांव के बीच बोलेरो ने बाइक में टक्कर मार दी। टक्कर लगने से बाइक सवार मजदूर छिटककर दूर जा गिरा और गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर एंबुलेंस के जरिए उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। वहां पर प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर होने पर रामबाबू को कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया। परिजन उसे कानपुर लेकर जा रहे थे, तभी रास्ते में उसकी मौत हो गई। मृतक तीन भाइयों में दूसरे नंबर का था। मृतक के बड़े भाई दिनेश ने बताया कि रामबाबू मजदूरी करता था। उधर, पुलिस ने बोलेरो को कब्जे में ले लिया है, जबकि चालक मौके से भाग निकला। उसकी तलाश की जा रही है। तिंदवारी थाना क्षेत्र के तेरहीमाफी गांव निवासी रिंकू उर्फ लोकसंज्ञा देव (35) पुत्र कृष्ण कुमार पेशे से ट्रक ड्राइवर था। वह बहुआ से ईंट लादकर शहर के पालीटेक्निक आया था। वहां पर ईंट उतरवाने के बाद वह शुक्रवार की सुबह ट्रक लेकर वापस बहुआ जा रहा था। अभी वह बाईपास के पास पहुंचा ही था कि उसने लघुशंका जाने के लिए ट्रक सड़क किनारे खड़ा कर दिया। इसके बाद सड़क पार करते समय एक ट्रक ने उसे टक्कर मार दी, जबकि उसके पीछे आ रहे दूसरे ट्रक ने चालक रिंकू को कुचल दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। रिंकू के शव के अवशेष यहां-वहां बिखर गए थे। खबर पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को समेटकर कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मध्य प्रदेश के पन्ना जिला अंतर्गत अजयगढ़ थाना क्षेत्र के माधौगंज गांव निवासी कैलाश प्रजापति (23) पुत्र मातादीन गुरुवार की शाम को बाइक से अतर्रा थाना क्षेत्र के बरेहंडा गांव स्थित अपने मकान जा रहा था। नरैनी कोतवाली क्षेत्र के मुकेरा गांव के पास अज्ञात वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी, इससे कैलाश छिटककर दूर जा गिरा और गंभीर रूप से घायल हो गया। आसपास मौजूद लोगों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस उसे अस्पताल लाई वहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment