देश में अलग-अलग स्थानों पर बनी तीन प्रणालियों से बदल रहा मौसम, 26 से वर्षा के आसार

भोपाल । वर्तमान में अलग-अलग स्थानों पर तीन मौसम प्रणालियां सक्रिय हैं। विशेषकर ओडिशा पर बने प्रति चक्रवात के कारण हवाओं का रुख बदल रहा है। हवाओं के साथ नमी आने के कारण बादल छाने लगे हैं। इससे राजधानी में फिल्हाल तापमान बढ़ गया है। 26 जनवरी से वर्षा होने के भी आसार हैं। कोहरा भी छाया रहेगा। मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक गत दिवस ग्वालियर और रीवा संभाग के कई जिलों में काफी बढ़े एवं शेष संभागों के जिलों में कोई विशेष परिवर्तन नहीं हुआ। न्यूतनम तापमान रीवा और शहडोल संभाग के जिलों में सामान्य से विशेष रूप से अधिक रहे। भोपाल, सागर और नर्मदापुरम संभाग के जिलों में सामान्य से काफी अधिक रहे। ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर संभाग के जिलों में सामान्य से अधिक तथा उज्जेन संभाग के जिलों में सामान्य रहे। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि जम्मू पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात के रूप में बना पश्चिमी विक्षोभ आगे बढ़ गया है। एक अन्य पश्चिमी विभोभ अफगानिस्तान और उससे लगे पाकिस्तान पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात के रूप में बना हुआ है। राजस्थान पर एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। ओडिशा के आसपास एक प्रति चक्रवात मौजूद है। इस मौसम प्रणाली के असर से हवा का रुख दक्षिणी बना हुआ है। हवा के साथ आ रही नमी के कारण बादल छाने लगे हैं।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment