दिल्ली को फिर नहीं मिल पाया मेयर, हंगामे के बीच एमसीडी सदन की कार्यवाही स्थगित

-एल्डरमैन और निर्वाचित पार्षदों ने ली शपथ
नयी दिल्ली । कुछ पार्षदों के हंगामे के बीच दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के सदन की कार्यवाही मंगलवार को महापौर और उप महापौर का चुनाव कराए बिना स्थगित कर दी गई। इस तरह एक बार फिर यह चुनाव टल गया। ‘एल्डरमैन और निर्वाचित पार्षदों की शपथ के बाद, सदन की कार्यवाही को 15 मिनट के लिए स्थगित कर दिया गया। भाजपा पार्षद उस बेंच की ओर गए, जहां आप पार्षद बैठे थे और नारेबाजी की, जिसके बाद पीठासीन अधिकारी ने सदन की कार्यवाही को अगली तारीख तक के लिए स्थगित कर दिया। इससे पहले आप पार्षदों ने ‘शेम (शर्म करो), शेम (शर्म करो) के नारे लगाए। दोनों दलों के कुछ पार्षदों के बीच सदन के एक गलियारे में तीखी नोकझोंक हुई। पीठासीन अधिकारी सत्या शर्मा ने कहा, ‘सदन की कार्यवाही इस तरह नहीं चल सकती…सदन की कार्यवाही को अगली तारीख तक के लिए स्थगित किया जाता है। इससे पूर्व मंगलवार को नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवी कर्मियों और मार्शलों की भारी तैनाती के बीच दिल्ली में नगर निगम सदन की बैठक फिर शुरू हुई। उपराज्यपाल द्वारा मनोनीत सदस्यों ने आप पार्षदों के विरोध के बावजूद सबसे पहले शपथ ली। पीठासीन अधिकारी सत्या शर्मा ने निर्वाचित प्रतिनिधियों के समक्ष मनोनीत सदस्यों को शपथ दिलाई आप पार्षद मुकेश गोयल ने मनोनीत सदस्यों को पहले शपथ दिलाने पर आपत्ति जताई। इसके बाद शर्मा ने निर्वाचित पार्षदों को शपथ दिलाने का आह्वान किया। 6 जनवरी को हुई पिछली बैठक के दौरान हुई अफरातफरी से बचने के लिए नगर निगम हाउस, सिविक सेंटर परिसर और यहां तक कि वेल के अंदर भी भारी सुरक्षा तैनात की गई थी।

mithlabra
Author: mithlabra

Leave a Comment